Friday, June 14, 2024
HomeTop Storiesयूपी के कुख्यात गैंगस्टर मुख्तार अंसारी की हार्ट अटैक से मौत

यूपी के कुख्यात गैंगस्टर मुख्तार अंसारी की हार्ट अटैक से मौत

यूपी के कुख्यात गैंगस्टर मुख्तार अंसारी की हार्ट अटैक से मौत

न्यूज लहर डेस्क:28 मार्च 24 सूत्रों और विभिन्न मीडिया चैनल की खबरों के अनुसार यूपी के बाहुबली डॉन मुख्तार अंसारी की बांदा मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान मौत हो गई।बताते चलें कि मुख्तार अंसारी बांदा जेल में बंद थे कल ही उन्हें उल्टी और पेट दर्द की शिकायत पर बांदा मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। 9 डॉक्टरों की टीम उनके इलाज में जुटी थी लेकिन अचानक हुए हार्ट अटैक से उनकी मौत हो गई।अस्पताल की मेडिकल बुलेटिन में उनके मौत की पुष्टि हो गई है।खबर जानने के बाद उनके घरवाले बांदा के लिए रवाना हो गए हैं।

इधर मुख्तार अंसारी के अपराधिक इतिहास और राजनीतिक रसूख को देखते हुए बांदा, मऊ, घोषी, आजमगढ़ इलाके में पुलिस की भारी तैनाती की गई है।प्रशासन कानून व्यवस्था पर कड़ी नजर बनाए हुए है और किसी भी प्रकार की अशांति पर काबू पाने के लिए पूरी तरह तत्पर है।

मुख्तार अंसारी की गिनती पूर्वांचल के बड़े माफिया डॉन के रूप में होती थी।पूर्वांचल के कई जिलों में उसका अपराधिक साम्राज्य चलता था।ठेकेदारी,रंगदारी और कोयले के व्यापार पर उसका कब्जा था।अपने अपराधिक आतंक और रॉबिन हुड की छवि के बदौलत उसने राजनीतिक रसूख भी कायम किया।

समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी दोनों ने उसका भरपूर संरक्षण दिया इसी वजह से वो निर्भीक होकर अपना साम्राज्य बढ़ाता रहा।इस आतंक के बल पर वो खुद कई बार विधायक बना,अपने भाई को और बेटे को विधायक बनाने में सफल रहा।जबकि उसके बड़े भाई अफजाल अंसारी ने 2019 में बसपा से गाजीपुर का लोकसभा का चुनाव लडा और भाजपा के दिग्गज नेता और केंद्रीय मंत्री मनोज कुमार को पटकनी दी।इस चुनाव में भी अफजाल अंसारी गाजीपुर से सपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं।

मुख्तार अंसारी पर वैसे तो दर्जनों मुकदमें दर्ज हैं जिनमें हत्या के संगीन मुकदमें भी हैं। हाल ही में एक मामले में मुख्तार अंसारी को उम्रकैद की सजा सुनाई गई थी।अपराधियों और माफियाओं  की फैक्ट्री रही पूर्वांचल ने मुख्तार अंसारी की मौत के बाद चैन की सांस ले सकेगा।

यह भी पढ़े

अन्य खबरे